कंटोला

33

कंटोला को ककोरा, ककोड़ा जैसे कई नामों से जाना जाता है। आमतौर पर मान्सून के मौसम में यह सब्जी भारतीय बाजारों में दिखाई देती है। कंटोला दिखने में करेले के समान होता है। लेकिन आकार में यह करेले से छोटा होता है।

कंटोला फाइबर विटामिन खनिज और एंटी ऑक्सीडेंट जैसे कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है | साथ ही यह बहुत ही कम कैलरी वाली सब्जी है। इसमें फाइबर मौजूद होते हैं जो पाचन को उत्तेजित करने का काम करते हैं। यह आपको कब्ज और अपच की समस्या से राहत देती है।

गुर्दे की पथरी को बाहर निकालने के लिए यह एक बहुत ही अच्छा उपाय है। एक गिलास दूध या पानी में 10 ग्राम कंटोला पाउडर मिलाकर हर रोज इसका सेवन करें | यह आपके गुर्दे या मूत्राशय की पथरी को बड़ी आसानी से बाहर निकालेगा कंटोला फोलेट का बहुत ही अच्छा स्रोत है |

बच्चे को प्रजनन और विकास के लिए फोलिक एसिड बहुत ही जरूरी होता है। गर्भवती महिलाओं के लिए इसका सेवन बहुत ही लाभकारी है कंटोला में बीटा कैरोटीन, कैरोटीन, अल्फा कैरोटीन जैसे तत्व मौजूद होते हैं | यह सभी घटक आपकी त्वचा के लिए बहुत ही जरूरी होते हैं।

यह आपकी त्वचा को स्वस्थ और सुंदर रखने का काम करते हैं। इसके अलावा कई त्वचा रोगों से भी हमें दूर रखता है। इसमें विटामिन ए, विटामिन बी पाया जाता है, जो कि अच्छी नजर के लिए बहुत ही आवश्यक है। आप अपनी दृष्टि में सुधार करने के लिए इसे अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं।

बवासीर की समस्या को दूर करने के लिए एक गिलास दूध में 5 ग्राम कंटोला और 5 ग्राम चीनी मिलाकर दिन में दो बार इसका सेवन करें | कंटोला के पत्तों को कुछ देर पानी में उबालें एक कप पानी में एक चम्मच शहद मिलाकर इसका सेवन करें |

बुखार को ठीक करने के लिए यह बहुत ही लाभकारी उपाय है | 3 ग्राम कंटोला पाउडर को एक कप गुनगुने पानी के साथ दिन में तीन बार सेवन करने से खांसी से तुरंत राहत मिलती है। अगर आप बहुत ज्यादा पसीने के कारण परेशान है, तो नहाते वक्त कंटोला पाउडर को स्क्रब की तरह इस्तेमाल करें। इससे आपके शरीर में पसीना और पसीने के कारण आने वाली बदबू कम हो जाएगी |

आयुर्वेदा का फेसबुक पेज लाइक करना मत भूलना।

और पढ़े –

Leave A Reply

Your email address will not be published.