डिप्रेशन से बचने के उपाय।

59

डिप्रेशन आज की युवा पीढ़ी की बहुत बड़ी समस्या है। पढ़ाई की टेंशन, घर गृहस्ती की चिंता, काम का तनाव, पैसोंकी कमी, दूसरोंके बारे में ज्यादा सोचना इन जैसी कई कारणोंसे व्यक्ति डिप्रेशन का शिकार बन जाती है। डिप्रेशन के कारण लोगोंका काम में मन नहीं लगता, किसी से बात करना उन्हें अच्छा नहीं लगता, रात को अच्छी नींद नहीं आती इन जैसी समस्या का आपको सामना करना पड़ता है। 

इससे अच्छा है की आप डिप्रेशन से दूर ही रहे। इसके लिए आपको अपनी जिंदगी में अपने रहन सहन में कई बदलाव करने होंगे। सकारात्मक सोच, लोगोंके कई समस्याओंका समाधान होती है। इस तरह की सोच से आप ज्यादातर मुश्किल वक्त को आसानीसे पार कर सकते हो। बहुत सारे लोग हमेशा दर्द की बाते, गम की बातोंको सोचते रहते है, जिसके कारण उन्हें तख़लीफ़ होती है और वो डिप्रेशन में चले जाते है। 

अगर आप किसी की बुरी बातोंको नजर अंदाज करना सीखते है तो आपको उनकी बातोंसे कोई फर्क नहीं पड़ेगा ऐसे समय में आपकी सकारात्मक सोच आपके काम आती है, जिससे आप तनाव, चिंता, डिप्रेशन जैसे कई समस्याओंसे दूर रह सकते हो। अगर आप शारीरिक रूप से स्वस्थ रहते है तो आप मानसिक रूप से स्वस्थ रह पाते है। इसके लिए आपको हर सुबह जल्दी उठना होगा, उसके बाद आपको हल्की कसरत करनी होगी। 

डिप्रेशन से बाहर आने के लिए आसान तरिके । Top Health Tips

व्यायाम और योग आपके शरीर में ऊर्जा का निर्माण करते है। आपको कई बीमारीओंसे बचाने का काम व्यायाम करता है। व्यायाम से आपका वजन नियंत्रित रहता है। व्यायाम करने से आपके मन में आत्मविश्वास निर्माण होता है, जिससे आप कई मुश्किलोंका सामना कर सकते हो। छोटी छोटी चीजोंको आसानीसे कर सकते हो और डिप्रेशन में जानेसे बच सकते हो। 

सुबह शाम ठन्डे या हल्के गुनगुने पानी से स्नान करे इससे आपका मन हमेशा फ्रेश रह जायेगा। अगर आप भगवान को मानते हो तो हर रोज सुबह भगवान की पूजा करे। आपके घर के आस पास कोई मंदिर हो तो हर सुबह शाम आप मंदिर जाना शुरू करदो। इससे आपके मन में अच्छे विचार आएंगे और आपका मन हमेशा प्रसन्न रहेगा। ऐसा करने से आप डिप्रेशन की समस्या से दूर रहेंगे। 

अगर आपकी नौकरी में कोई समस्या है, आपका बॉस आप पे हमेशा चिल्लाता है। आपको काम के बदले पैसे कम मिलते है, नौकरी की जगह पर आपको अन्य लोगोंसे परेशानी झेलनी पड़ती है, कोई भी आपसे अच्छी तरह से बात नहीं करता है। इन सभी वजहोंके कारन आप बार बार उन्ही घटनाओंके बारे में सोचते हो। बार बार सोचने के कारन आप अपने काम पे ध्यान नहीं दे पाते हो, तो ऐसी नौकरी करने का कोई मतलब नहीं है। नौकरी छोड़के आपको दूसरी जगह पर काम करना चाहिए। 

ऐसे जगह पर काम करे, जहा आपको काम करने के लिए शांति मिले, जहा का वातावरण पॉजिटिव हो, सब लोग आपसे अच्छे से बात करे। भले ही ऐसे जगह पर आपको सैलेरी थोड़ी कम भी मिले लेकिन, जेब में कम पैसे आने के बावजूद आप अपना जीवन अच्छे से जी सकते हो। 

प्रेगनेंसी में डिप्रेशन के कारण। Health Tips

अगर आपका स्वाभाव दूसरोंसे थोडासा अलग है। आप लोगोंकी बातोंपर ज्यादा सोचते हो, आपको जल्दी बुरा लगता है। बहुत जल्दी आपके आंखोसे पानी आता है। ऐसे स्वाभाव के कारण उस व्यक्ति को काफी तख़लीफ़ सहन करनी पड़ती है। ऐसे लोग एक ही चीज के बारे में बार बार सोचते रहते है, जिसके कारण आप डिप्रेशन का कारन बन जाते हो। 

इसके लिए अच्छा है की आप अपने स्वभाव में थोड़ा बदल करे। लोगोंकी बातोंको दिल पे लेना छोड़ दो। एक ही चीज के बारे में बार बार सोचना थोड़ा कम करदो। मानसिक तोर पर अपने आप को थोड़ा स्ट्रांग बनाने की कोशिश करे। ऐसा करने से आप कई समस्या से अच्छे से सामना कर सकते हो।

अगर आपके मन को कोई बात सताती है। आप के मन में एक ही बात बार बार आती है। तो ऐसे समय में आप कोई भी अच्छा संगीत सुन सकते हो, या फिर भगवान का जप कर सकते हो। इससे आपके मन में जो बाते चल रही थी वो बंद हो जाएँगी। 

अगर आप किसी बात से परेशान है तो उस बात को अपने मन में ज्यादा देर तक ना रखे। अपने घर वालो से या फिर अपने दोस्तों के साथ आप उसके बारे में बात कर सकते है। इससे आपको अपनी समस्या का हल भी मिल जायेगा। दूसरोंसे बात को शेयर करने से आपका मन भी हल्का हो जायेगा। इससे आप आसानीसे डिप्रेशन की समस्या से दूर रहेंगे।

अगर किसी व्यक्ति को कोई शारीरिक बीमारी है। बहुत सारे उपाय करने के बाद भी बीमारी ठीक नहीं होती है,जिसके कारन आप बार बार उसी चीज के बारे में सोचते रहते है। ऐसे चीजोंका नतीजा बहुत बुरा होता है, पहले सी ही आप शारीरिक बीमारी से परेशान है उसके बाद आप मानसिक बीमारी का भी शिकार बन जाते है। नियमित रूप से दवाओंका सेवन करने से आप शारीरिक बीमारी से तो ठीक हो जाओगे, लेकिन मानसिक बीमारी को ठीक करने में बहुत समय लगता है। इसीलिए अच्छा है की आप ऐसे चीजोंके बारे में ज्यादा सोचना बंद करदो।  

डिप्रेशन से बचने के लिए आप अपनी मनपसंदीदा चीजे करे। अपना मनपसंदीदा भोजन करे। अपने पेट को खाली बिलकुल न रखे। भूखा रहने से आपका स्वभाव काफी चिड़चिड़ा हो जाता है। भरपूर पानी का सेवन करे, इससे आप हमेशा स्वस्थ रहेंगे। 

ज्यादा अकेला मत रहे। अकेले रहने से मन में कई बाते आने लगती है और फिर हम उसी के बारे में सोचने लगते है। जिसके कारन आगे जाके हम डिप्रेशन का शिकार बन जाते है।

आयुर्वेदा का फेसबुक पेज लाइक करना मत भूलना।

और पढ़े – 

Leave A Reply

Your email address will not be published.