तुलसी घनवटी

97

तुलसी एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है, जिसकी हर घर में पूजा की जाती है । तुलसी अपने गुणों के कारण बहुत ही प्रसिद्ध है । तुलसी में कई बीमरियों को दूर करने की शक्ति होती है। तुलसी की पतियों को मिलाकर तुलसी घनवटी को बनाया जाता है। 

स्वस्थ जिंदगी जीने के लिए शरीर की इम्युनिटी पावर मजबूत होना जरूरी है। एलोपैथी में कोई ऐसी दवा नहीं है जिसके सेवन से इम्युनिटी पावर बढ़ सके। आयुर्वेदिक जड़ीबूटी या फिर पोषक आहार का सेवन करके ही आप अपनी इम्युनिटी को बढ़ा सकते है । 

जड़ी बूटियों में तुलसी एक ऐसी औषधी जो इम्युनिटी बढ़ाने में बहुत ही असरदार है। अगर आप बार बार बीमार पड़ते है तो उसी घनवटी का सेवन जरूर करे ।

तुलसी में एंटीबैक्टीरियल, एंटीवायरल, एंटीफंगल गुण मौजूद होते है। जो आपको कई तरह के संक्रमण से बचाकर रखते है। जिन लोगों को बार बार सर्दी खांसी की समस्या होती है फिर चाहे वो एलर्जी के कारण हो या इन्फेक्शन के कारण उन्हें तुलसी घनवटी का सेवन जरूर करना चाहिए । 

ये औषधी बैक्टीरियल, वायरल इन्फेक्शन को ठीक करने का काम करती है । साथ ही तुलसी में एंटी एलर्जिक गुण भी मौजूद होते है जो एलर्जी से लड़कर आपकी खांसी, नाक से पानी आना, बार बार छीके आने की समस्या को ठीक करती है। 

तुलसी घनवटी का सेवन फेफड़ो में रक्त पूर्ति करता है और हमे संक्रमण से बचाता है । साथ ही इससे शरीर को ऊर्जा भी मिलती है । तुलसी घनवटी में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते है जो शरीर में फ्री सेल डैमेज होने से रोकती है। 

यह औषधी खून को साफ करती है जिससे त्वचा में भी निखार आने लगता है। तुलसी में एंटी पैरेटिक गुण मौजूद होते  है जो आपको बुखार , ठंड, फ्लू जैसी समस्या से बचाता है। अस्थमा, ब्रोंकाइटिस, रायनाइटिस की समस्या में ये औषधी  बहुत ही लाभकारी है। 

तुलसी चाय के फायदे। Doctor Kalyani Told About Tea

त्वचा विकारों के लिए तुलसी एक अत्यंत उपयोगी औषधी है इसमें मौजूद एंटीफंगल एंटी इचिंग गुण कई समस्या से  आपको राहत देने का काम करते है। फंगल इन्फेक्शन त्वचा में होनेवाली खुजली की समस्या में तुलसी घनवटी बहुत ही अछि औषधी है। इससे त्वचा रोग ठीक हो जाते है, और दाद खुजली में भी राहत मिलती है। 

तुलसी शरीर के हर अवयव के लिए उपयुक्त ऐसी औषधी है। वायरल हेपेटाइटिस के लक्षणों को कम करने के लिए भी आप इसका सेवन कर सकते है । स्ट्रेस(तनाव) के कारण लोगों को नींद नहीं आती और बेवजह लोग गोलियों का शिकार बनते है। तुलसी में शक्तिशाली एंटी स्ट्रेस एजेंट मौजूद होते है जो तनाव को कई हद तक कम करने का काम करते है। 

स्वाइन फ्लू की समस्या से बचने के लिए आप तुलसी घनवटी का सेवन कर सकते है। यह औषधी शरीर में रक्तपरिसंचरण को बढाती है । ह्रदय को मजबूत और स्वस्थ रखती है ।  

एंटीऑक्सीडेंट युक्त चीजे कैंसर के खतरे को कम करती है । तुलसी घनवटी एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है इसका सेवन करने से कैंसर का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है। कैंसर का मरीज इस औषधी का सेवन करने से एक स्वस्थ जिंदगी जी सकता है। 

जिन बच्चों को बार बार खासी होती है गले में इन्फेक्शन हो जाता है जो आगे जाकर न्यूमोनिया का रूप लेता है ऐसे बच्चों को तुलसी घनवटी का सेवन जरूर करना चाहिए। तुलसी घनवटी एक ठंडी औषधी है जो पेट दर्द से राहत देने का काम करती है । इस औषधी में मौजूद तत्व शरीर को स्वस्थ रखने का काम करते है और बिमारियों से बचाते है । 

मात्रा – ५ साल से १२ साल तक के बच्चे तुलसी घनवटी की आधी गोली दिन में १ बार या २ बार ले सकते है। बाकि लोग इस औषधी की एक या २ गोली गुनगुने पानी साथ ले दिन में २ बार ले सकते है। 

आयुर्वेदा का फेसबुक पेज लाइक करना मत भूलना।

और पढ़े –

Leave A Reply

Your email address will not be published.