पोहा खाने के फायदे।

46

दोस्तों, सुबह का नाश्ता सेहत के लिए बहुत ही जरूरी होता है। सुबह उठकर चाय पिने से पहले हमे नाश्ता करना चाहिए। सुबह का नाश्ता हम जितने जल्दी करेंगे उतना हमारे लिए अच्छा होता है। नाश्ते में लोग बहुत सारे चीजोंका इस्तेमाल करते है जिसमे पोहा, उपमा, सैंडविच आदि का समावेश होता है। कुछ लोगोंको सुबह सुबह खाने की आदत नहीं होती है, वे लोग सीधा दोपहर का भोजन ही लेते है। 

मजेकी बात तो यह है की ऐसे लोगोंको लगता है की, इस तरह देर से खाना खाने पर उनका वजन संतुलित रहेगा। लेकिन यह उनकी गलतफैमी होती है, ऐसा करने से उनका वजन और भी ज्यादा तेजीसे बढने लगता है। इसके साथ ही आपको सिरदर्द और एसिडिटी की समस्या हो सकती है।

क्या नाश्ता इतना जरुरी हे? जानिए आयुर्वेदा के साथ…

इसलिए अगर आपको सुबह नाश्ता करने की आदत नहीं है तो आजसे अपनी आदत में बदलाव कीजिये। आज का हमारा टॉपिक है, नाश्ते में पोहा खाने से होने वाले लाभ। पोहा कार्बोहायड्रेड का काफी अच्छा स्त्रोत है। इसमें ७०% कार्बोहायड्रेड और २३% फैट यानि की वसा होती है। तुरंत ऊर्जा पाने के लिए पोहा खाया जाता है। पोहा का सेवन करने के बाद आपके शरीर में कार्य करने के लिए पर्याप्त ऊर्जा का निर्माण होता है। 

उच्च मात्रा में पोषक तत्व होने के साथ ही पोहा में काफी कम मात्रा में कैलोरी होती है। पोहा विटामिन और एंटी ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है। वजन कम करने के लिए आप अपने डाइट प्लान में इस को शामिल कर सकते है। पोहा में फाइबर की भरपूर मात्रा होती है, आपको तो पता होगा ही फाइबर का ज्यादा सेवन करने से कब्ज की समस्या नहीं होती है। फाइबर की उच्च मात्रा होने के कारन पोहा का पेट धीमे गति से पाचन होता है।  

ऐसा होने से आपको नाश्ता करने के बाद बार बार भूख नहीं लगती। पोहा खाने से नाश्ता और दोपहर के खाने में अच्छा खासा गैप बना रहता है।

गर्भवती और स्तनपान करने वाली महिलाओंको तो इसका सेवन अवश्य करना चाहिए। पोहा में आयरन की अच्छी मात्रा होती है, जिसके कारण आपके शरीर को रक्त कोशिकाओंको बनाने में सहायता मिलती है। पोहा में कई प्रकार की सब्जिओंको मिलाकर भी आप इसका सेवन कर सकते है। इससे पोहा स्वादिष्ट बनने के साथ पोषकतत्वोंसे भरपूर बनेगा। ऐसा करने से आपके शरीर को कई प्रकार के विटामिन्स और मिनरल्स मिलेंगे। पोहा हल्का होने के कारन पेट ज्यादा भरा भरासा भी नहीं लगता और सुबह का कार्य करने में आपको आसानी होती है।

यह आपके पाचन तंत्र के लिए अच्छा है। इसका नियमित सेवन आपके पाचनतंत्र के प्रक्रिया को मजबूत बनाता है। इस को दही के साथ मिलाकर खाने से यह हड्डियोंको मजबूत बनाने में मदद करता है। इससे हड्डियोंकी कमजोरी दूर हो जाती है। जिन लोगोंको ग्लूटेन से एलर्जी ही वे लोग इसका सेवन कर सकते है, यह ग्लूटेन फ्री होता है। डाइबिटीस के मरीज चावल खाने के बजह पोहा का अपने आहर में इस्तेमाल कर सकते है

 आयुर्वेदा का फेसबुक पेज लाइक करना मत भूलना।

और पढ़े।

Leave A Reply