मूली के पत्ते खाने के फायदे।

28

दोस्तों, आप मूली के पत्तोंका इस्तेमाल कई प्रकार के व्यंजनोको बनाने के लिए, इसकी सब्जी बनाने के लिए करते है।

इसके आलावा आप सलाद  में पालक की तरह मूली के पत्तोंका उपयोग कर सकते है।

मूली के पत्तो में आयरन, फॉस्फोरस, फोलिक एसिड, कैल्शियम, विटामिन की उच्च मात्रा होती है।

ये सभी घटक हमारे शरीर का अच्छा स्वास्थ और विकास होने में मदद करते है।

क्या आपको पता है, मूली के पत्ते औषधीय गुणोंसे भरपूर होते है। आप बहुत सारे समस्याओं के इलाज में इसका उपयोग कर सकते है।

बवासीर एक गंभीर और दर्दनाक बीमारी है। मूली के पत्तोंका इस्तेमाल करके आप बवासीर से छुटकारा पा सकते है।

मूली के पत्तोंमें मौजूद जीवाणु रोधी गुण गुद की सूजन को कम करते है।

इसके लिए मूली के पत्तोंको सुखाकर इसका चूर्ण बनालो, इस चूर्ण में समान मात्रा में चीनी मिलालो।

अब एक गिलास पानी में इस मिश्रण के २ चम्मच डालकर सेवन करे। इस उपाय को लगातार ४ -५ दिन जरूर करे।

इसी मिश्रण का १ चम्मच लेके इसमें ५ – ६ बून्द पानी डालकर इसका पेस्ट बनाले, इस पेस्ट को अपने गुद भाग पे लगालो आपको २ – ३ दिनों में रिजल्ट दिखाई देगा।

मूली खाने के फायदे। Dr. Kalyani Talks About Muli

गाठिया का उपचार करने में मूली के पत्ते बहुत ही फायदेमंद होते है। इसकेलिए मूली के पत्तोंका रस निकाले। इसमें बराबर मात्रा में चीनी मिलाकर पेस्ट तयार करे।

इस पेस्ट को गठिया के सूजन और दर्द वाले जगह पर लगाए।

मूली के पत्तोंके रस में मूत्रवर्धक गुण होते है। नियमित रूप से मूली के पत्तोंका सेवन करने से मूत्राशय को साफ करने में मदद मिलती है।

इसका सेवन करने से आपकी किडनी की पथरी दूर हो जाएगी।

इसके आलावा मूली के पत्तोंमें पेट साफ करने के गुण मौजूद होते है। पाचन तंत्र को स्वास्थ रखने के लिए आप मूली के पत्तोंका सेवन कर सकते है।

मूली के पत्तोंका सेवन रक्तप्रवाह को नियंत्रित करने में मदद करता है।

पोटैशियम की उच्च मात्रा BP को नियंत्रित करने का काम करती है। मूली के पत्तो में मौजूद पोषकतत्व शरीर के HB लेवल को बढाने में मदद करते है।

शरीर की रोगप्रतिकार शक्ति को बढाने के लिए आप मूली के पत्तोंका सेवन कर सकते है। इसमें भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट होते है, जो शरीर की थकान को दूर करने का काम करते है।

मूली के पत्ते स्कर्वी बीमारी को ठीक करते है। यह बीमारी विटामिन C के कमी के कारन होती है।

अगर आप अपने रक्त को शुद्ध करना चाहते हो तो मूली के पत्तो की सब्जी बनाकर उसका सेवन जरूर करे। ह्रदय को स्वस्थ रखने के लिए मूली के पत्ते लाभकारी होते है।

मूली के पत्ते पीलिया का इलाज करने के लिए बहुत ही फायदेमंद है।

इसके लिए मूली के पत्तोंको पीसकर इसका रस निकाले, आधे लीटर रस का कुछ दिन तक हररोज सेवन करे।

इस उपाय को करने से आपको पीलिया से राहत मिलेगी। मधुमेह के मरीजोंको मूली के पत्तोंकी सब्जी बनाकर उसका सेवन जरूर करना चाहिए।

यह मधुमेह को तो ठीक करती ही है लेकिन इसको खाने से आपकी सेहद में भी सुधार आता है।

मूली खाने के फायदे बताएं

हर रोज मूली खाने से बाल झड़ने की समस्या दूर हो जाती है |

बवासीर में कच्ची मूली या मूली के पत्तों की सब्जी बना कर खाना फायदेमंद होता है |

रोजाना खाने में मूली का सेवन करने से डायबिटीज से जल्दी छुटकारा मिल सकता है |

मूली का सेवन करने से हम जुकाम से दूर ही सकते हैं |

इसलिए सलाद के रूप में मूली को जरूर खाएं |

हर रोज मूली के ऊपर काला नमक डालकर खाने से भूख न लगने की समस्या दूर हो जाती है |

नियमित रूप से मूली खाने से मुँह, आंत और किडनी के कैंसर का खतरा कम रहता है |

थकान मिटाने और नींद लाने में मूली सहायक है |

मोटापा कम करने के लिए मूली के रस में नींबू का रस और नमक मिलाकर सेवन करें |

दांतों से खून आने की समस्या होने पर दिन में तीन बार मूली के रस से कुल्ला करें और इसका रस पिए

मूली के रस में समान मात्रा में अनार का रस मिलाकर पीने से हीमोग्लोबिन जल्दी बढ़ता है |

मूली को धीरे-धीरे चबाकर खाने से दांत चमकते हैं और शरीर से दाग धब्बे दूर हो जाते है |

मूली खाने से आंखों की रोशनी बढ़ती है |

नियमित रूप से मूली मूली खाने से ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है |

मूली खाने से आपके पेट में गैस बिल्कुल नहीं रहेगी | नियमित रूप से मूली खाने से पेट के कीड़े नष्ट हो जाते हैं |

अगर आपको खट्टी डकार आती है, तो एक कप मूली के रस में मिश्री मिलाकर इसका सेवन करें |

पेशाब का बढ़ना बंद हो जाने पर मूली का रस पीने से पेशाब दोबारा बढ़ने लगती है |

आयुर्वेदा का फेसबुक पेज लाइक करना मत भूलना।

और पढ़े – 

Leave A Reply

Your email address will not be published.