संगीत सुनने से होने वाले अद्भुत चमत्कार।

198

मेरे प्यारे दोस्तों, हम सबको संगीत सुनने में काफी मजा आता है। में जब भी संगीत सुनती हूँ, तो और ज्यादा तेजीसे काम करने लगती हूँ। मेने सोचा क्यों ना आज इसी बात पे कुछ जानकारी लेते है। बात करे हमारे भारत देश की तो यहा पर संगीत का जनम सदियों पुराना है। इस देश में भगवान शिव को नृत्य, नाटक और संगीत का देवता माना जाता है। ऐसा कहा जाता है की, भारत वर्ष की पुराणी सिंधु घाटी के लोग ईश्वर की पूजा करने के लिए संगीत का प्रयोग करते थे। इस देश में संगीत का विकास सबसे ज्यादा हुआ है, भारत देश का आधुनिक म्यूजिक भी काफी मनोरंजक होता है।

संगीत की जानकारी –

दोस्तों, क्या आपको पता है, हर रोज आप १० से २० मिनिट म्यूजिक सुनते है तो आप का अकेलापण तो दूर होगा ही साथ में दिमाग भी तनाव से मुक्त रहेगा। इस सदियों के सबसे महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइन्स्टीन संगीत के काफी शौकीन थे। आप यकीन नहीं करोगे, लेकिन म्यूजिक सुनने से कई प्रकार के रोग भी ठीक हो जाते है, और यह बात हमारे पुर्वजोने सिद्ध भी करे के दिखाई है। आप ऐसा भी कह सकते है, संगीत सुनना दिमाग का एक व्यायाम ही है। विलियम जेम्स ने कहा है की, “मै खुश होने के वजह से नहीं गाता हूँ, बल्कि मै खुश हूँ क्योंकि में गाता हूँ ” मेरे प्यारे दोस्तों यह लाइन मुझे बेहद पसंद है।

एक अच्छा संगीत सुनने से आपके दिमाग की कमजोर नसे मजबूत बन जाती है। म्यूजिक से दिमाग की कसरत होने में मदद मिल जाती है। बड़े बड़े हस्पताल जिसमे दिमाग पे काम किया जाता है वहा पर भी संगीत का इस्तेमाल किया जाता है। मल्टीनेशनल कंपनी में भी काम करने वाले लोगोंको प्रोस्ताहित रखने के लिए संगीत को चलाया जाता है। कुछ खेती करने वाले मजदूरोने एक प्रयोग किया था, उनोने गाय का दूध निकालते समय उसको मधुर ऐसा संगीत सुना दिया तो गाय ने भी कुछ लीटर दूध ज्यादा दिया। यह सभी बाते करने के बाद, आप का इतना तो भरोसा जरूर हुआ होगा की संगीत हमारे शरीर पे कुछ ना कुछ तो प्रभाव डालता है।

संगीत के कुछ प्रयोग –

संगीत सुनोगे तो खुश रहोगे और खुश रहोगे तो खाना जल्दी डाइजेस्ट होगा, खाना पचेगा तो रोगप्रतिकार शक्ति में इजाफा होगा। सीधी बात में बोलू तो गाना सुनने से रोगप्रतिकार शक्ति बढ़ेगी। हमारी हिन्दू संस्कृति बहुत ही टेक्निकल सोच वाली है, क्या आपने कभी नोटिस किया क्या हमारी माँ रोते हुए बच्चे को भी संगीत सुनाकर(जिसे हम लोरी बोलते है ) गहरी नींद सुला देती है। बड़े बड़े हस्पताल में म्यूजिक की थेरेपी भी होती है जो गर्भावस्ता में रहने वाली महिलाको की जाती है, उससे से वह दर्द से थोड़ा बहुत आराम पा लेती है और मानसिक तोर पर पॉजिटिव महसूस करती है।

हमने देखा है, कई खिलाडी मैदान में आने से पहले संगीत सुना करते है। एक इंटरवीव में माजी भारतीय कप्तान महेंद्रसिंग धोनी ने कहा की, मैदान में प्रेशर के वक्त में वे गाना गाते थे। संगीत सुननेसे खिलाड़ियोमे जोश पैदा होता है और वे अच्छी पारी खेल लेते है। हमारे समाज में लगबग हर धर्म में संगीत से ही भगवान को पूजा जाता है, उससे ऊर्जा की तरंगे निकलती है। जिस तरह का म्यूजिक हम सुनते है उस प्रकार की ऊर्जा से हम प्रभावित होते है। कुछ लोग होते है जो म्यूजिक का इस्तेमाल कुकर्म करने के लिए करते है। संगीत का इस्तेमाल आतंकवाद में भी होता है, युवा बच्चोंका ब्रेन वाश करने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। जानते है म्यूजिक के कुछ बेहतरीन फायदे।

संगीत सुनने के फायदे –

सबसे महत्वपूर्ण फायदा यह है की हम तनाव और चिंता से दूर रहते है। संगीत सुननेसे दिमाग पूरी तरह से हल्का हो जाता है और सोच भी सकारात्मक बनती है। दर्द को सहन करने के लिए भी संगीत का इस्तेमाल किया जाता है। म्यूजिक थेरेपी करने वाले लोगोंका पीठ का दर्द दूर हो जाता है। अगर आप जिम में जाते हो तो संगीत सुनने से जोश बढ़ता है और वर्कआउट अच्छी तरह से हो पाता है। म्यूजिक सुनने से दिमाग तेज बनता है, हमने अक्सर देखा है स्कूल के होशियार बच्चे संगीत के शौकीन होते है।

जो लोग म्यूजिक सुनते है वो डर का सामना आसानीसे कर लेते है। नींद अच्छी आने के लिए म्यूजिक सबसे बढ़िया दवा है। घर में भगवान का अच्छासा म्यूजिक लगाने पर बुरी एनर्जी घर में प्रवेश नहीं कर पाति है।रोजाना सॉफ्ट संगीत सुनने पर खाना खाते समय पेट जल्दी भर जाता है इससे शरीर का मोटापा नहीं बढ़ता। हाई ब्लड प्रेशर के मरीज और दिल के मरीज को रोजाना १० – १५ मिनट संगीत सुनना चाहिए इससे उनके स्वास्थ में सुधार आता है। आयुर्वेदा का फेसबुक पेज लाइक करना मत भूलना।

यह म्यूजिक आपको ज्ररूर अच्छा लगेगा –

और पढ़े –

Leave A Reply

Your email address will not be published.