आंख फड़कने का कारण

16

पलकों का फड़कना बहुत आम बात है l डॉक्टर की भाषा में इसे मायोकेमिया कहते हैं l लेकिन ज्यादातर लोगों को इसका कारण पता नहीं होता और लोग अंधविश्वास से जुड़ी बातों पर ही ज्यादा ध्यान देते हैं l 

आखोंके पलकों के फड़कने के कारण 

शुरुआत में पलके बहुत हल्का-हल्का फड़कना शुरू करती है, जिसका मतलब होता है कि कोई गंभीर या चिकित्सा से संबंधित बात नहीं है l 

आम तौर पर कुछ जीवनशैली से जुड़ी चीजें आंखों और पलकों के फड़कने का कारण बनती है l

तनाव

जब भी हम तनाव में होते हैं तो हमारा शरीर अलग-अलग ढंग से प्रतिक्रिया करता हैl आंखों का फड़कना तनाव का सबसे पहला लक्षण माना जाता हैl 

थकान – 

अच्छे ढंग से ना सो पाना फिर चाहे वो तनाव या किसी अन्य कारणों की वजह से हो l थकान आंखों या पलकों के फड़कने का कारण बनती है l

आँख पर जोर पड़ना –

आंखों से जुड़ी समस्याएं फड़कने का कारण बन सकती है l यहां तक कि अगर मामूली सी भी आंखों से जुड़ी परेशानी है तभी यह समस्या आपको हो सकती है l 

कैफीन – 

बहुत ज्यादा कैफीन का सेवन आंखों के फड़कने का कारण बनता है l 

शराब –

शराब का सेवन करना छोड़ दें क्योंकि शराब भी आंखों के फड़कने का कारण बनती है l 

ड्राई आँख –

कई बूढ़े लोगों को ड्राई आंखों का सामना करना पड़ता है l जो लोग बहुत ज्यादा दवाइयां, कैफीन, शराब का सेवन करते हैं, जरूरत से ज्यादा कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं | उनमे भी ड्राई आंखें होने की शिकायत पाई जाती है l 

संतुलित पोषण –

कुछ पोषक तत्वों की कमी से आंख या पलकें फडका सकती है l जैसे की मैग्नीशियम की कमी से यह स्थिति बन सकती है l 

एलर्जी –

जिनकी आंखों में एलर्जी होती है उन्हें खुजली सूजन और पानी निकलने की समस्या होने लगती है l जिसके कारण आंखें और पलकें फड़क सकती है l

जैसा कि हमने ऊपर बताया तनाव और पलकों के फड़कने का पहला कारण होता है | तो इससे छुटकारा पाने के लिए आप योग, साँस के व्यायाम कर सकते हैं l

पोषक तत्वों से भरपूर आहार का सेवन करें l एक अच्छी नींद लेने से आपको थकान और तनाव की समस्या नहीं होगी जिससे आपकी आंखें और पलकों के फड़कने की समस्या भी दूर हो जाएगी l

जब भी आंखें या पलकें फड़कने लगे तो आंखों पर हल्का गर्म कपड़ा लगाएं इससे फड़कने की शिकायत कम हो जाती है l 

आयुर्वेदा का फेसबुक पेज लाइक करना मत भूलना।

और पढ़े –

Leave A Reply

Your email address will not be published.