बच्चों की खांसी के लिए घरेलू उपचार

7
  • सर्दी-जुकाम में आप अपने अपने शिशु को हल्दी का दूध भी पिला सकते हैं।
  • सरसों के तेल में अजवाइन और लहसुन मिलाकर अच्छे से गर्म करें। तेल थोड़ा ठंडा होने पर उससे बच्चे की मालिश करें। इससे बच्चे को काफी मात्रा में आराम मिलेगा।
  • बच्चों को सर्दी खांसी होने पर अजवाइन का काढ़ा पिलायेl
  • बच्चों को सर्दी-जुकाम से राहत देने के लिए आप तेल मालिश भी कर सकते हैं। इसके लिए सरसों का तेल कारगर रहेगाl
  • दो साल से अधिक उम्र के बच्‍चे को नमक के पानी से गरारे करवाएं। इसके लिए एक कप गुनगुने पानी में आधा चम्‍मच नमक डालें और बच्‍चे को गरारे करने के लिए कहें। बच्‍चे को पहले सादे पानी से गरारे करना सिखाएं।
  • सरसों के गुनगुने तेल में एक चम्मच सेंधा नमक डालें और इससे शिशु की छाती व पीठ पर हल्की मालिश करें। बच्चे की छाती पर गर्माहट मिलने के लिए उसे एक सूती चादर ओढ़ा दें।
  • सर्दी खांसी के दौरान सूप बहुत आरामदायक भोजन होता है। आप सब्जियों का सूप दे सकती है। यदि आपका बच्चा थोड़ा बड़ा है तो आप उसे चिकन सूप दे सकती है।
  • बच्चे को गर्म पानी में गुड, जीरा और काली मिर्च का मिश्रण देl सर्दी खांसी और गले में खराश होने पर यह मिश्रण असरदार होता है।
  • शहद को अपने एंटीऑक्सीडेंट और एंटीमाइक्रोबियल गुण के लिए जाना जाता है। सर्दी-खांसी के दौरान, आप एक साल से ज्यादा उम्र के बच्चों को रात में शहद के साथ अदरक के रस का सेवन करा सकते हैं।
  • लहसुन की एक छोटी सी कली को पीसकर थोड़े से शहद में मिलाकर सुबह-शाम बच्चे को खिलाये
  • थोड़ा-सा नींबू का रस, दालचीनी पाउडर और शहद को मिलाकर पेस्ट बनाएं और दिन में दो बार बच्चे को खिलाये
  • बच्चे को संक्रमण से बचाने के लिए अपना और बच्चे का हाथ साफ रखें। बच्चे को कुछ खिलाने से पहले हैंड वॉश जरूर करें।
  • बच्चे को सर पर टोपी पहना कर रखें जिससे उसके कानों में ठंडी हवा ना लगे l
  • सर्दी-जुकाम के दौरान आप बच्चों को गुनगुने पानी से स्नान करा सकते हैं। गुनगुने पानी की गरमाहट से बच्चे को काफी आराम मिलेगा।
  • गुनगुने पानी में नमक मिलाकर गरारा करने से गले का बलगम और सूजन दोनों कम हो जाते हैं।
  • बच्चों को मौसम के अनुसार कपड़े पहनाये।उन्हें गर्म रखने के लिए एक के ऊपर एक कपड़ा पहनाये
  • सोते हुए बच्चे का सिर पर रखे जिससे आसानी से सांस ले सके।
  • सर्दी-जुकाम के दौरान बच्चों को हाइड्रेट रखना बहुत जरूरी है। बीच-बीच में बच्चों को गुनगुना पानी पिलाते रहें।
  • गाजर में आवश्यक पोषक तत्व और विटामिन होते हैं जो इम्यून सिस्टम की क्षमता को बढ़ाने में मदद करते हैं। यह बच्चों में जुकाम के लिए सर्वोत्तम घरेलू उपचारों में से एक है।
  • संक्रमण से बचने के लिए अपने और अपने बच्चे के हाथों को बार-बार धोएं क्योंकि 80% संक्रमण स्पर्श से फैलते हैं।
  • एक गिलास गुनगुने पानी में नींबू का रस निचोड़ें और इसमें थोड़ा सा शहद मिलाकर बच्चे को पिलाएं। इससे बच्चे को सर्दी व जुकाम से पूर्णतः आराम मिल सकता है।

आयुर्वेदा का फेसबुक पेज लाइक करना मत भूलना।

और पढ़े –

Leave A Reply

Your email address will not be published.