सिजेरियन डिलीवरी के बाद देखभाल

9

सिजेरियन डिलीवरी के बाद घाव और ड्रेसिंग का ख्याल रखना पड़ता है | टांको और घांव के ताजा होने की वजह से इंफेक्शन हो सकता है | इससे बचने के लिए कुछ दिन स्नान करने से परहेज करें | 

पहनने के लिए छोटे कपड़ों का प्रयोग करें | समय पर ड्रेसिंग जरूर करें | ऑपरेशन के बाद तुरंत चलना शुरु ना करें | कुछ दिनों के लिए थोड़ा थोड़ा और धीरे-धीरे करके चलना शुरू करें |  इसके अलावा बच्चे को स्तनपान करवाते रहने से गर्भाशय को सही स्थिति में आने में सहायता मिलती है |  

ऑपरेशन के बाद 2 महीने तक भारी वजन ना उठाएं अन्यथा ब्लीडिंग हो सकती है | सिजेरियन के बाद महिला को ऐसे काम नहीं करने चाहिए जिससे पेट पर जोर पड़े | कई बार तो टांके टूट भी जाते हैं, जिससे आपकी तकलीफ और बढ़ सकती है |  

महिला को ऐसा भोजन लेना चाहिए जिससे उसके शरीर को पोषण मिले और इस अवस्था में कब्ज की समस्या भी हो सकती है | इससे बचने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी और फाइबर युक्त फल सब्जियों का सेवन करें | 

ऑपरेशन के बाद सीढ़ियों पर चढ़ना शुरू ना करें, इससे पेट पर जोर पड़ता है और महिला को काफी थकान भी हो जाती है | सिजेरियन के बाद कम से कम 2 महीने तक सेक्स ना करें, अन्यथा गर्भ से संबंधित समस्याएं हो सकती है |   

सिजेरियन के बाद संक्रमण से बचे जिससे सर्दी जुकाम की समस्या ना हो | खांसी आने पर धीरे-धीरे खांसे जोर से खांसने पर टांके टूट जाते हैं |  

सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिलाओं के शरीर का शेप थोड़ा बिगड़ जाता है | इससे एक्सरसाइज की माध्यम से आप शेप में ला सकते हैं |

आयुर्वेदा का फेसबुक पेज लाइक करना मत भूलना।

और पढ़े 

Leave A Reply

Your email address will not be published.