धनिया के फायदे और नुकसान

37

धनिया के पत्तों को चबाने से मुंह के छाले नष्ट हो जाते हैं। 

हरे धनिया और त्रिफला की चटनी बनाकर खाने से आंखों की रोशनी तेज होती है। 

हरे धनिया की चटनी में काला नमक मिलाकर सेवन करने से पेट की गैस समाप्त हो जाती है। 

हरा धनिया पुदीना सेंधा नमक और नींबू का रस मिलाकर चटनी बनाकर खाने से उल्टी बंद हो जाती है। 

हरे धनिया को चबाकर खाने से मुंह की दुर्गंध बंद हो जाती है। 

हरे धनिया को पीसकर सिर पर लेप करने से सिर दर्द ठीक हो जाता है। 

रात में धनिया के पत्तोंको पानी में भिगो दें और सुबह उसमें मिश्री मिलाकर पीने से शरीर की गर्मी और पेट की जलन दूर हो जाती है। 

धनिया के सेवन से पेशाब खुलकर आता है। धनिया का हर रोज सेवन करने से पाचन क्रिया बेहतर होती है और इससे भूख भी खुलकर लगती है। 

धनिया को पानी में उबालकर उस पानी से कुल्ला करें इससे रक्त आना बंद हो जाता है। 

सूखे धनिया को एक गिलास पानी में उबालें पानी आधा रहने पर छानकर उस पानी का सेवन करें। इससे पेशाब ज्यादा आएगा और कोलेस्ट्रॉल कम होगा |  

हरे धनिए की पत्तियों का रस बालों में लगाएं | इस रस को बालों में लगाने से, बालों की मालिश करने से बालों का गिरना बंद हो जाएगा और बाल मुलायम बनेंगे।

आयुर्वेदा का फेसबुक पेज लाइक करना मत भूलना।

और पढ़े –

Leave A Reply

Your email address will not be published.