इमली खाने के फायदे

29

पकी हुई इमली के रस में मिश्री मिलाकर सेवन करने से हृदय की जलन मिट जाती है। इमली शरीर में रक्त संचार को बेहतर बनाती है और आयरन की कमी को पूरा करती है जिससे लाल रक्त कोशिकाओं का अधिक निर्माण होता है और आपकी रोगप्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है।

आंखों में दर्द है या जलन की शिकायत होने पर भी इमली बहुत मददगार होती है। इमली के रस में दूध मिलाकर आंखों के बाहर लेप लगाने से आराम मिलता है।

इमली में विटामिन बी कांपलेक्स भरपूर मात्रा में होता है जो मांसपेशियों के विकास के लिए फायदेमंद है।

कुछ दिनों तक इमली के बीज को पानी में भिगोकर रख दें। फिर इसका छिलका निकालकर इसके अंदर मौजूद सफेद भाग को सुखाकर पीस लें। 

इसमें से एक चम्मच पाउडर और एक चम्मच मिश्री को एक गिलास दूध में मिलाकर इसका सेवन करें। इससे शीघ्रपतन की समस्या दूर हो जाती है। इसके सेवन से पुरुषों में नपुंसकता कि बीमारी भी ठीक हो जाती है।

इमली का सेवन करने से शरीर को पाचन संबंधी समस्याओं में आराम मिलता हैl इमली में fiber  की अच्छी मात्रा मौजूद होती है जो कि भोजन के पाचन में और पाचन संबंधी समस्याओं के उपचार में मदद करती है |

इमली के रस में कालीमिर्च का चूर्ण मिलाकर 1-1 चंच रस पीते रहने से भूख बढ़ने लगती है | जो लोग भूख न लगने की समस्या से परेशान है उनके लिए यह बहुत ही अच्छा उपाय है। दांतों में कीड़े और दांतों के पीलेपन को ठीक करने के लिए इमली बहुत ही लाभकारी है l 

इमली बीज के पाउडर से दांतों को साफ करने से दांत चमकने लगते हैं । बवासीर का इलाज करने के लिए इमली बहुत लाभकारी है। इसके लिए इमली के फूल और पत्तों का जूस तैयार करके सेवन करें।

इमली में हाइड्रोक्सील एसिड की बहुत अधिक मात्रा होती है। यह शरीर में बनने वाली अतिरिक्त चर्बी को बर्न करनेवाले एन्जाइम को बढ़ाता है जिससे शरीर का वजन कम करने में हेल्प मिलती है।

इमली में मौजूद विटामिन ए, विटामिन सी, एंटीऑक्सीडेंट्स त्वचा समस्या के लिए प्राकृतिक उपाय है। इमली के रस को दही और हल्दी पाउडर में मिलाकर इसे चेहरे पर लगाएं। इस उपाय को करने से चेहरे के मुहासे कम होते हैं।

आयुर्वेदा का फेसबुक पेज लाइक करना मत भूलना।

और पढ़े –

Leave A Reply

Your email address will not be published.