Honey [शहद]

93

शहद क्या है?

शहद एक मीठा चिपचिपाहट वाला अर्ध तरल पदार्थ होता है जिसे मधुमक्खियां बनाती है।

शहद कैसे बनता है?

खाने की तलाश में मधुमक्खियां फूलों पर मंडराती रहती है और अपनी नली जैसी जीभ से फूलों का रस चूस कर इसे अपने पेट में जमा करती है।भरपेट मकरंद पीने के बाद मधुमक्खियों का पेट सामान्य से ज्यादा लंबा हो जाता है। फूलों की मकरंद ग्रंथों में पाए जाने वाला यह मकरंद शक्कर का घोल होता है। इसमें लगभग 25 से 50% शक्कर होती है। मधुमक्खियों का पेट भरने के बाद वह अपने क्षेत्र पर जाती है और वहां मौजूद बाकी मधुमक्खियों को यह रस देती है। 

यह मधुमक्खियां इस मकरंद को आधे घंटे तक चबाती है और इसमें में मुंह की ग्रंथिया से निकलने वाले स्त्राव को मिलाती है।इसके बाद इस मकरंद को छत्ते के चैंबर्स (खानों) में रखा जाता है। इस रस में से पानी को सुखाने के  लिए मधुमक्खियां अपने पंख फड़फड़ा कर हवा करती है और जब इसमें पानी की मात्रा 18% से भी कम रह जाती है तब इस रस से भरे खानों को मोम की एक पतली परत से ढक दिया जाता है। इस तरह से प्राकृतिक रूप से शहद बनता है।

शहद के प्रकार

  • मनुका शहद
  • क्लोवर शहद
  • लेदर वुड हनी
  • Bkvit हनी
  • अल्फाल्फा हनी 
  • रोज मेरी हनी 
  • ब्लूबेरी हनी
  • लवेंडर हनी (Lavender honey)

आयुर्वेद के अनुसार शहद के प्रकार 

  • माक्षिक
  • भ्रामर
  • क्षौद्र
  • पौतिक
  • छात्र
  • आधर्या 
  • औदलिक
  • दाल

शहद के पोषक तत्व

प्रोटीन कार्बोहाइड्रेट फाइबर शुगर, खनिज, कैल्शियम, आयरन मैग्नीशियम, फॉस्फोरस पोटेशियम, सोडियम जिंक, मैगनीज कॉपर सेलेनियम, विटामिन, विटामिन सी, राइबोफ्लेविन, नियासिन, फोलेट, कोलीन 

शहद के फायदे

  • शहद एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट दिल को स्वस्थ रखने का काम करते हैं और दिल से जुड़ी कई बीमारियों से हमारी रक्षा करते हैं।
  • शहद में मौजूद प्रोबायोटिक्स गुण पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने का काम करते हैं। शहद एक हल्का विरेचक पदार्थ है जो कब्ज, पेट फूलना,  गैस जैसी समस्या में भी आराम देता है।  
  • शहद का सेवन करने से शरीर को भरपूर ऊर्जा मिलती हैl शहद शरीर को कार्बोहाइड्रेट और प्राकृतिक शर्करा, फ्रुक्टोज और ग्लूकोज प्रदान करता है जो सीधे खून में पहुंचकर ऊर्जा में बदलता है।
  • शहद त्वचा को आवश्यक पोषण प्रदान करता है। त्वचा को स्वस्थ और खूबसूरत बनाता है। त्वचा के विकारों को दूर करता है और त्वचा में कसाव लाता है। 
  • शहद का नियमित सेवन करने से मांसपेशियां मजबूत बनती है।
  • शहद का इस्तेमाल करने से आंखों की रोशनी बढ़ने लगती है। 
  • शहद में मौजूद प्राकृतिक एंटीसेप्टिक, एंटीबायोटिक गुण घाव को और चोट को ठीक करने का काम करते हैं।
  • चीनी की जगह पर शहद का उपयोग करके आप मोटापे की समस्या से दूर रह सकते हैं। शहद में मौजूद विटामिन, खनिज और अमीनो एसिड कोलेस्ट्रॉल और फैट के चयापचय को बढ़ाने का काम करते हैं जिससे व्यक्ति मोटापे से दूर रह सकता है।
  • खांसी की समस्या का इलाज करने के लिए शहद बहुत ही लाभकारी होता है। शहद में मौजूद एंटी बैक्टीरियल गुण खांसी की समस्या में आराम देने का काम करते हैं। साथ ही गले के दर्द को भी दूर करते है।
  • शहद का सेवन करने से शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की संख्या बढ़ने लगती है। हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ने लगता है। एनीमिया की समस्या से बचने के लिए शहद का उपयोग काफी लाभदायक है। 
  • शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने के लिए शहद बहुत ही उपयोगी होता है।
  • शहद का सेवन ब्लड प्रेशर के स्तर को नियंत्रित रखने का काम करता है। 
  • सफेद रंग की दिखने वाली चीनी बनाने के लिए कई केमिकल्स का इस्तेमाल किया जाता है जो शरीर के लिए बहुत ही हानिकारक होती है। सफेद चीनी की जगह पर आप अपने भोजन में शहद का इस्तेमाल कर सकते हैंl 
  • ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या से बचने के लिए हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए शहद बहुत ही उपयोगी होता है। 
  • शहद में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लामेटरी गुण फ्री रेडिकल्स की समस्या के साथ-साथ सूजन की समस्या को भी ठीक करने का काम करते हैं। 
  • शहद में पाए जाने वाले फेनोलिक कंपाउंड्स में एंटी कैंसर गुण मौजूद होते हैं जो कैंसर की समस्या से बचाने का काम करते हैं। 
  • एसिडिटी की समस्या में लोगों को खट्टी डकार आना, पेट में सीने में जलन होना जैसी समस्याएं होने लगती है। इस समस्या को ठीक करने के लिए भी शहद उपयोगी होता है।
  • शहद एक प्राकृतिक मॉइश्चराइजर है जो त्वचा में नमी को बनाए रखने का काम करता है। साथ ही साथ यह त्वचा के टोन में भी सुधार करता है और झुर्रियों से भी बचाने में सहायता करता है। 
  • ठंड के दिनों में होंठ बहुत ही रूखे बन जाते हैं। कभी-कभी उसमें खून आने लगता है। अपने होठों को मुलायम बनाने के लिए आप शहद का इस्तेमाल कर सकते हैं। 
  • शहद में मौजूद एंटी फंगल और एंटीमाइक्रोबियल्स मुंहासों की समस्या से छुटकारा देने का काम करते हैं। चेहरे की सफाई करते हैं। इसके लिए आप अपने चेहरे पर शहद का प्रयोग कर सकते हैं।
  • धूप धूल प्रदूषण के कारण बाल बहुत ही रूखे और बेजान बनने लगते हैं। बालों में शहद लगाने से बाल खूबसूरत दिखने लगते हैं। बालों की रूसी और बालों का टूटना कम हो जाता है।

डाबर शहद 

डाबर इंडिया का बहुत ही बड़ा और प्रसिद्ध ब्रांड है। वैसे तो डाबर के कई सारे प्रोडक्ट है पर इनके शहद की बात ही कुछ अलग है। डाबर शहद को हिमालय, निलगिरी और सुंदरवन के जंगलों से प्राप्त किया जाता है। कच्चे शहद में धूल मोम पराग जैसी कुछ अशुद्धियां होती है। इस शहद को मशीन द्वारा फिल्टर करके साफ किया जाता है। इसे साफ करते समय पूरी साफ सफाई का ध्यान दिया जाता है। 

डाबर शहद अपनी शुद्धता के लिए और अंतरराष्ट्रीय मानदंडों की सभी वैधानिक आवश्यकताओं  के साथ कड़ाई से पुष्टि करता है। डाबर शहद ने शहद की शुद्धता के बारे में पूरे भारत में सबसे ऊंचा स्थान प्राप्त किया है। डाबर शहद को अपनी गुणवत्ता के लिए ASHCO का प्रमाणपत्र भी मिला है। 

डाबर शहद को CERS एक्सप्रेस न्यूज़ सर्विस अहमदाबाद द्वारा 26 दिसंबर को सर्वश्रेष्ठ स्थान दिया गया है साथ ही साथ डाबर शहद के पास HACCP का प्रमाणपत्र भी  है। 

डाबर शहद 100% शुद्ध और शाकाहारी प्रोडक्ट है। यह शरीर की रोग प्रतिकारक शक्ति को मजबूत बनाता है l 

डाबर शहद शरीर में उर्जा लाने का काम करता है। यह एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है। खासी जुकाम की समस्या से बचने के लिए आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। यह आपके दिल को स्वस्थ रखता है।

  • 100 gm डाबर शहद में कैलरी होती है 320 kcl | 
  • कार्बोहाइड्रेट – 80 gm.
  • सोडियम – 17 mg
  • पोटेशियम -138 mg
  • कैल्शियम -13 mg
  • आयरन – 1.5 mg 
  • फॉस्फोरस – 5 mg 
  • प्राकृतिक शुगर – 80 mg 
  • Fat – 0 gm 

घटक –  शहद 100 प्रतिशत.

इस शहद की खास बात यह है कि इसमें कोई भी मिलावट नहीं होती है

Zandu pure honey  [झंडू शुद्ध शहद]

झंडू शुद्ध शहद सुंदरबन में पाए जानेवाले शहद और तुलसी का एक अनूठा मिश्रण है। 

शोध के अनुसार सुंदरबन के जंगलों से एकत्र किए गए शहद में एंटीऑक्सीडेंट की बहुत ही अच्छी मात्रा मौजूद होती है, जिसकी वजह से ये शहद शरीर की रोग प्रतिकारक शक्ति को मजबूत बनाने के लिए बेहतरीन है।

झंडू शुद्ध हनी, हिमालय, मुजफ्फरपुर, कगुर और सुंदरबन जैसे क्षेत्रों के विदेशी मधुमक्खी पालनकर्ताओं प्राप्त होता है जो अपनी गुणवत्ता के लिए प्रसिद्ध है। इस शहद का हर एक बूंद 100% शुद्धता की गारंटी देता है। 

झंडू शुद्ध शहद कई सारे पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसमें भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट, एंजाइम्स और आवश्यक खनिज मौजूद होते हैं। झंडू शुद्ध हनी में आपको एक अलग ही तरीके का रंग स्वाद, फ्लेवर और थिकनेस देखने को मिलेगा। 

इस शहद में मौजूद प्राकृतिक विटामिन और खनिज शरीर को ऊर्जा प्रदान करते हैं, साथ ही साथ शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाते हैं। झंडू प्योर हनी में C3/ C4 चावल /कॉर्न सिरप जैसे किसी भी चीनी सिरप की कोई भी मिलावट नहीं होती है। 

इस शहद का परीक्षण जर्मन प्रयोगशाला में किया गया है। वजन कम करने के लिए आप हर रोज के भोजन में चीनी के अलावा इस शहद का इस्तेमाल कर सकते है।

झंडू शुद्ध शहद पोषक तत्व

100 gm  झंडू प्योर शहद में

  • कैलरी- 320 kcal 
  • कार्बोहाइड्रेट – 80 gm
  • सोडियम -180 mg 
  • पोटेशियम – 130 mg 
  • आयरन – 1.5 mg 
  • फास्फोरस – 5 mg 
  • प्राकृतिक शुगर – 80 gm
  • प्रोटीन – 0 gm

घटक – 100% शहद.

Honey Basket Wild Raw Honey

यह एक ऑर्गेनिक अनप्रोसैस्ड, अनहीटेड,अनपाश्चराइज्ड शहद है जो कि एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल गुणों से भरपूर होता है | रॉ शहद का मतलब होता है कि इस शहद को मधुमक्खी के छत्ते से प्राप्त किया जाता है | रॉ हनी पूरी तरह से कच्चा होता है साथ ही साथ यह अनफिल्टर्ड, अनप्रोसैस्ड है। 

इस शहद की अपनी ख़ास बात है जो इसे बहुत ही स्वादिष्ट और आकर्षक बनाती है। इसके आकर्षक स्वाद और चिकनी स्थिरता के कारण आप इसे बार-बार खाना पसंद करेंगे।

इस शहद में एक प्रकार का परागकण होता है जो कि एक पोषण संबंधी एंजाइम्स है जो पाचन प्रक्रिया को मजबूत बनाता है साथ हीं साथ शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को भी मजबूत बनाता है l 

कच्चा शहद आवश्यक खनिज और अमीनो एसिड से समृद्ध होता है। इस शहद में एंटी ऑक्सीडेंट की भरपूर मात्रा होती है। इसके साथ ही इसमें भरपूर मात्रा में एंजाइम्स और विटामिन होते हैं।

कच्चा शहद एक प्राकृतिक स्वीटनर के रूप में काम करता है क्योंकि इसमें चीनी की तुलना में जीआई मूल्य बहुत ही कम होता है इसका मतलब यह है कि यह आपके रक्त शर्करा के स्तर को इतना जल्दी नहीं बढ़ाता है जितना की प्रोसैस्ड शहद या चीनी बढ़ाता है।

कच्चा शहद चीनी की तुलना में बहुत ही मीठा होता है जिसकी वजह से आप इसका बहुत कम और अक्सर उपभोग कर सकते हैं | रॉ शहद में कोई भी हानिकारक रसायन, अवशेष पर्यावरण प्रदूषण और गैर कार्बनिक हनी चीनी या कोई अन्य संरक्षक नहीं है। 

इसके अलावा इसमें मधुमक्खी पराग,प्रोपोलिस और मधुकोष बिटस होते हैं। यह सभी इसके महत्वपूर्ण गुण है जो कि स्वास्थ्य के लिए फ़ायदेमंद होते हैं।

रॉ हनी का उपयोग आप कई चीजों में कर सकते हैं। आप इसका इस्तेमाल करके कुकीज़, ब्राउनीज, वेफल, पैनकेक या चीजकेक बना सकते हैं।

हनी एक सार्वभौमिक और बहुत ही स्वादिष्ट पदार्थ है। आप अपने तरीके से इस का आनंद ले सकते हैं। 

फायदे 

  • प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाएं।
  • आंख और दिल के लिए फायदेमंद l 
  • पाचन तंत्र को स्वस्थ रखें।
  • वजन कम करने में सहायता करें। 
  • सर्दी जुकाम की समस्या में आराम दे l
  • त्वचा में निखार लाए।

महत्वपूर्ण मुद्दे

  • हनी बास्केट वाइल्ड  रॉ हनी शहद का बहुत ही बड़ा ब्रांड है। 
  • यह हनी सबसे कुशल और शुद्ध गुणों में से एक है जो किसी अतिरिक्त शक्कर रंग, फिल्टर और संरक्षक के बिना बनता है। यह सेहत के लिए बहुत ही उपयोगी हैl 
  • यह प्रीमियम गुणवत्ता वाला शहद है जो कि FSSAI (Food safety and Standards Authority of India ) द्वारा प्रमाणित है। साथ ही साथ यह NaBL मान्यता प्राप्त है।
  • इसके उपयोगकर्ताओं के द्वारा इसे फाइव स्टार रेटिंग मिला है। यह शहद सभी शाकाहारी सामग्रियों से बना है।
  • रॉ हनी बढ़ती शक्ति और फर्टिलिटी के लिए सबसे अच्छा होता है। यह मासिक धर्म एठंन से राहत देता है।
  • रॉ  हनी एंटीएजिंग, एंटीकैंसर, एंटीवायरल, एंटी इन्फ्लैमटॉरी, एंटीफंगल, गुणों से भरपूर होता हैl 
  • यह प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाता है। रॉ हनी त्वचा की जलन को कम करता है। त्वचा के टोन में सुधार करता है। 
  • इसके साथ ही यह सामान्य सर्दी जुकाम एलर्जी की समस्या में भी आराम देता है। 
  • आप अपनी पसंद का कोई भी नाश्ता बनाकर उस पर यह हनी लगाकर इसका स्वाद ले सकते हैं।

पोषक तत्व

100gm शहद में 

  • एनर्जी – 304 kcal 
  • कार्बोहाइड्रेट – 82.4 gm
  • शुगर – 82.12 gm
  • डाइटरी फाइबर – 0.2 gm
  • प्रोटीन – 0.3 gm
  • विटामिन B2 – 0.38 mg 
  • विटामिन B3 – 0.121 mg
  • विटामिन B5 – 0.068 mg 
  • कैल्शियम – 6 mg
  • सोडियम – 4 mg 
  • जिंक – 0.2 mg

बैद्यनाथ हनी

श्री बैद्यनाथ आयुर्वेद भवन प्राइवेट लिमिटेड कंपनी सबसे सम्मानित कंपनियों में से एक हैं। इस कंपनी कि स्थापना 1917 में हुई थी तब से लेकर आज तक इस कंपनी ने आधुनिक अनुसंधान और विनिर्माण तकनीकों के साथ प्राचीन ज्ञान को फिर से स्थापित करने में एक अग्रणी भूमिका निभाई है।

आयुर्वेद स्वास्थ्य देखभाल और हर्बल उपचार का 5000 साल पुराना विज्ञान है। आयुर्वेद आम और जटिल बीमारियों में अत्याधिक प्रभावी है। 

आयुर्वेद का कोई दुष्प्रभाव नहीं होता। बैद्यनाथ शहद बहुत ही खास है क्योंकि यह 100% शुद्ध ऑर्गेनिक और पोषक तत्वों से भरपूर है। यह हनी सीधा मधुमक्खियों के छत्ते से प्राप्त किया जाता है। बैद्यनाथ शहद की शुद्धता हमें खांसी, सर्दी और फेफड़ों के संक्रमण से बचाती है। यह शहद वजन को कम करने में सहायता करता है।

साथ ही साथ त्वचा  को भी खूबसूरत बनाता है। बैद्यनाथ हनी का स्वाद आप दूध, चाय, टोस्ट और परांठा के साथ ले सकते हैं। 

इसका सेवन शरीर की इम्यूनिटी  पावर को बेहतर बनाता है।

घटक – 100% शहद.

पोषक तत्व

100 gm शहद में

  • ऊर्जा – 324 kcal
  • प्रोटीन – 0 gm
  • फैट – 0 gm
  • कार्बोहाइड्रेट – 81 gm
  • प्राकृतिक शुगर – 81 gm
  • अतिरिक्त शुगर – 0 gm

Patanjali Pure Honey [पतंजलि शुद्ध शहद]

पतंजलि शुद्ध शहद मधुमक्खियों द्वारा निर्मित एक मीठा रस है जो फूलों के अमृत से प्राप्त होता है। 

यह एक सर्वोत्तम शुद्ध शहद है। इस हनी को मोनासैक्रेड फ्रुक्टोज और ग्लूकोज से इसकी मिठास मिलती है जिसकी मिठास लगभग दानेदार चीनी के समान ही होती है।

पतंजलि शुद्ध प्राकृतिक शहद फ्रुक्टोज, खनिज, विटामिन व अन्य पोषक तत्वों से भरपूर होता है। शहद सिर्फ एक प्राकृतिक स्वीटनर नहीं  है बल्कि यह एक बहुविध भोजन है जो शरीर को पर्याप्त स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है।

इस शहद में एंटी इन्फ्लैमटॉरी गुण मौजूद होते हैं जो जोड़ों के दर्द में आराम देते हैं। यह एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है। कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है। ह्रदय रोगों के खतरे को कम करता है।

रक्तचाप को नियंत्रित रखता है।

पतंजलि हनी 100% शुद्ध हनी है यह FSSAI द्वारा भी प्रमाणित  है।

पोषक तत्व – 

100 gm हनी में

  • उर्जा – 320 kcal
  • कार्बोहाइड्रेट – 80 gm
  • प्राकृतिक शुगर – 80 gm
  • अतिरिक्त शुगर – 0 gm
  • प्रोटीन – 0 gm
  • फैट – 0 gm
  • सोडियम – 20 mg 
  • पोटेशियम – 130 mg 
  • कैल्शियम – 12 mg 
  • फास्फोरस – 5 mg 
  • आयरन – 1.6 mg

Apis Himalaya Honey [एपिस हिमालया शहद]

Apis एक प्राकृतिक शहद है जो कि हिमालय की खूबसूरत घाटियों से प्राप्त होता है।

यह एक शुद्ध शाकाहारी शहद है जो  ISO22000 द्वारा प्रमाणित है l शहद उन व्यक्तियों के लिए विशेष रूप से सहायक है जो अपने शरीर के वजन को कम करने की कोशिश कर रहे है l 

टेबल शुगर की तुलना में शहद की समान मात्रा में बहुत अधिक ऊर्जा होती है जो की शहद के चयापचय कार्यों को बनाए रखने के लिए पर्याप्त है l

अपने एनर्जिक  गुणों के कारण शहद शरीर में इन्सुलिन के स्तर को बेहतर बनाता है l

जिस स्रोत से शहद निकलता है उसके आधार पर शहद में विटामिन A,विटामिन C, आयरन और कैल्शियम जैसे पोषक तत्व और खनिज होते है l 

हनी का सेवन शरीर उसके उचित कार्य और विकास के लिए आवश्यक पदार्थों के साथ पोषण करने में मदद करता है l 

हनी के समग्र गुणों में इसके एंटीसेप्टिक, एंटीफंगल और जीवाणु रोधी गुण शामिल है। पारंपरिक दवाओं में इसलिए शहद आम बैक्टीरिया और फंगल संक्रमण के इलाज के लिए महत्वपूर्ण घटक है।

पोषक तत्व

  • ऊर्जा – 319 kcl 
  • कार्बोहाइड्रेट – 79.5 gm
  •  प्रोटीन – 0.3 gm
  • फैट – 0 gm
  • शुगर – 0 gm

24 Mantra Organic Wild Honey

24 मंत्रा ऑर्गेनिक शहद हिमालय के प्राचीन पहाड़ों से स्वादिष्ट हिमालयन मल्टीफ्लावर शहद से प्राप्त होता है। यह किसी भी व्यंजनों को रमणीय बनाता है।

इसमें पोषण मूल्यों की मात्रा बहुत अधिक होती है। यह स्वाद में हल्का और मीठा होता है। इस शहद को फिल्टर किया जाता है और शुद्धता के लिए परीक्षण किया जाता है। साथ ही इसे कृत्रिम परिरक्षक और चीनी के किसी भी अतिरिक्त के बिना,शुद्ध और बिना दूषित रूप में पैक किया जाता है। 

यह स्वसन समस्याओं के लिए सर्दी, खासी और एलर्जी के इलाज के लिए बहुत उपयोगी है। यह बहुत ही पौष्टिक होता है। मंत्रा ऑर्गेनिक के सभी उत्पादों को भारतीय अमेरिका और यूरोपीय जैविक मानकों के अनुसार प्रमाणित किया जाता है।

यह ऑर्गेनिक शहद प्राकृतिक रूप में पाए जाने वाले एंटी ऑक्सीडेंट और एन्ज़याम्स से भरा होता है जो हमारी इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाने में मदद करता है। यह पाचन तंत्र को बेहतर बनाता है। शरीर से अतिरिक्त वसा को कम करके वजन को घटाने का काम करता है।

इस शहद को 12 महीने से कम उम्र के बच्चे को न खिलाए। 

पोषक तत्व 

  • उर्जा – 300 kcal 
  • प्रोटीन – 0 gm
  • कार्बोहाइड्रेट – 75 gm
  • फैट – 0 gm 
  • शुगर – 75 gm

Merlion Naturals Raw Honey

रॉ शहद का उपयोग कम से कम 10,000 वर्षों से स्वास्थ्य चिकित्सा, धार्मिक और सांस्कृतिक परंपराओं में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। कच्चा शहद मूल रूप से मधुमक्खी के छत्ते में पाए जाने वाले शहद के समान होता है। 

मेर्लिओन नेचुरल का कच्चा शहद बहुत ही शुद्ध होता है। साथ ही यह अनहिडेन,अनपाश्चराइज्ड और अनप्रोसैस्ड है। शहद एक प्रोबायोटिक है यह आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत ही अच्छा होता है।

हनी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाता है और पूरे शरीर को स्वस्थ रखता है। शहद शरीर को प्रोटीन,  फाइटोन्यूट्रिएंट्स प्रदान करता है। शहद, कैल्शियम, लोहा, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, पोटेशियम और जस्ता जैसे खनिज तत्वों से भरपूर होता है। रॉ शहद में सभी 22 अमीनो एसिडस होते है। 

रॉ शहद में कोई एंटीबायोटिक या पर्यावरण प्रदूषण नहीं होते। मेरिलिओन नेचुरल ऑर्गेनिक रॉ शहद को जंगलों से प्राप्त किया जाता है। इसके बाद इसके ऊपर निस्पंदन प्रक्रिया की जाती है जिसमें एक जाल या उनके कपड़े से मधुमक्खियां और शहद की अशुद्धियों को दूर किया जाता है। यह शहद ISO, USDANOP ऑर्गेनिक प्रमाणित है। 

पोषक तत्व 

  • ऊर्जा – 60 kcal
  • फैट – 0 gm 
  • सोडियम – 0 mg 
  • कार्बोहाइड्रेट – 16 gm
  • टोटल शुगर – 16 gm
  •  प्रोटीन – 0 gm

शहद का सेवन करते समय आपको कुछ बातों का ध्यान देना बहुत ही जरूरी है

  1. शहद को कभी भी गर्म नहीं करना चाहिए।
  2. शहद को कभी भी गर्म चीजों में नहीं मिलाना चाहिए।
  3. शहद के खाने के बाद गर्म पानी ना पिए l
  4. गर्म वातावरण में काम करते समय शहद का सेवन नहीं करना चाहिए। 
  5. शहद को कभी भी बारिश के पानी में मसालेदार भोजन में या फिर नशीले पेय जैसे कि व्हिस्की रम या ब्रांडी में नहीं मिलना चाहिए।
  6. अधिक मात्रा में शहद का सेवन नहीं करना चाहिए। 
  7. शहद को धातु के बर्तन में ना रखें,  इसे हमेशा कांच या चीनी के कंटेनर में रखें। 
  8. बोटूलिज्म ( एक प्रकार का जीवाणु भोजन विषाक्तता )  के जोखिम से बचने के लिए 12 महीने से कम उम्र के बच्चों को शहद देने से बचे l 
  9. जिन लोगों को परागकण की एलर्जी है उन्हें शहद की भी एलर्जी हो सकती है। 
  10. शहद में कभी-कभी जीवाणु क्लॉस्ट्रीडियम बोटूलिज्म के निष्क्रिय एंडोस्पोर्स होते हैं जो शिशुओं के लिए खतरनाक हो सकते हैं क्योंकि एंडोस्पोर्स शिशु के अपरिपक्व आंत में विष पैदा करने वाली बैक्टीरिया में बदल सकता है जिससे बीमारी हो सकती है।

सफोला शहद

  • सफोला शहद एक सौ प्रतिशत शाकाहारी प्रोडक्ट है। इसमें बिल्कुल भी अतिरिक्त शर्करा नहीं है।
  • सफोला शहद की शुद्धता को जांच करने के लिए Magnetic resonance test की जाती है।
  • सफोला शहद एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता हैl यह आपकी शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है |
  • सफोला शहद से आपके शरीर को प्राकृतिक रूप से उर्जा मिलती है।
  • यह आपके शरीर को सभी तरह के पोषक तत्व प्रदान करता हैl
  • सफोला शहद के दो चम्मच सुबह शाम ऐसे ही खा सकते हैं। आप इस शहद को गर्म पानी या गुनगुने दूध के साथ ले सकते हैं।
  • चाय, कॉफी, खिर या हलवा बनाते समय आप इसे शक्कर की जगह पर इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा आप इस शहद को नाश्ता भोजन में पराठा ब्रेड के साथ ले सकते हैं।

पोषक तत्व 100 gm शहद

  • ऊर्जा – 325kcal
  • फैट – 0 gm
  • कार्बोहाइड्रेट – 81 gm
  • टोटल शुगर – 81gm
  • प्रोटीन – 0.25gm

Umanac Oraganic Honey

यह एक ऑर्गेनिक प्रमाणित शहद है। यह एक 100% शुद्ध और प्राकृतिक शहद है। इस शहद को हिमालय के जंगलों से प्राप्त किया जाता है। Umanac एक शुद्ध शाकाहारी शहद है। यह किसी भी रसायन है या प्रदूषक से मुक्त है। इसके अलावा यह सभी तरह के पोषक तत्वों से भरपूर होता है।

आप किसी भी आचार, मिठाई, केक, सलाद व्यंजनों को दिलकश बनाने के लिए शहद का इस्तेमाल कर सकते है। ऑर्गेनिक शहद प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाता है। गले की खराश को ठीक करता है। ऊर्जा के स्तर को बढ़ाता है।कई पेय और मीठे पदार्थों के लिए यह एक आदर्श प्राकृतिक स्वीटनर है।

तुलसी शहद

तुलसी शहद हिमालय के पर्वत की तलहटी से निकलने वाला एक शहद है जो कि पहाड़ों में मिलने वाले शहद की तरह ही शुद्ध होता है।
यह एक सौ प्रतिशत प्राकृतिक शहद है जो आयुर्वेद की श्रेष्ठ और पवित्र जड़ी-बूटी तुलसी से समृद्ध होता है। यह प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाता है। चाय को पूरक बनाने के लिए आप शहद को चाय में मिला सकते हैं। इस शहद का सेवन आपको ऊर्जा से भर देता है और आपके व्यस्त दिन को पूरा करने के लिए आपकी सहन शक्ति को बढ़ाता है।

आयुर्वेदिक शहद कई औषधीय गुणों से भरपूर होता है। शहद जीवाणुरोधी और सूजनरोधी गुणों से भरपूर होता है।शहद पोषक तत्व एंटीऑक्सीडेंट, फ्लेवोनॉयड और हीलिंग यौगिकों से भरपूर होता है जो नियमित रूप से लेने पर लोगों को स्वस्थ रखता है। मधुमक्खियों की अमृत,पराग और रेजिन को फूलों से इकट्ठा करने की किमया द्वारा बनाया गया शहद मॉइश्चराइज करने के लिए बुढ़ापे से लड़ने और बैक्टीरिया से लड़ने में सहायता करता है।शहद अल्सर और अन्य बैक्टीरियल गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल विकारों को कम करने में मदद करता है।

आयुर्वेदा का फेसबुक पेज लाइक करना मत भूलना।

और पढ़े –

1 Comment
  1. Anonymous says

    Nice information

Leave A Reply

Your email address will not be published.