मंदिर जाने के फायदे

16

दोस्तों मंदिर में तो हम लोग कई बार जाते है | वहां जाने से हमें अलग सा सुकून महसूस होता है | मन को शांति मिलती है | मंदिर में झांकने के कई सारे साइंटिफिक फायदे है | 

शायद हम इन बातों पर ज्यादा ध्यान नहीं देते कभी मंदिर में जाकर इन फायदों को भी महसूस करके देखिए फिर शायद आप हॉस्पिटल से ज्यादा मंदिर जाने लगेंगे रोज मंदिर जाने से और दोनों भौहों के बीच माथे पर तिलक लगाने से हमारे प्रेम के खांसी से पर दबाव पड़ता है, इसे कंसंट्रेशन लेवल बढ़ता है | 

मंदिर के अंदर नंगे पर जाने से यहां की पॉजिटिव एनर्जी पैरों के जरिए हमारी बॉडी में प्रवेश करती है | नंगे पैर चलने के कारण पैरों में मौजूद प्रेशर पॉइंट्स पर दबाव भी पड़ता है | जिससे हाई ब्लड प्रेशर की प्रॉब्लम कंट्रोल होती है | मंदिर में दोनों हाथ जोड़कर पूजा करने से हथेलियों और उंगलियों के उन पॉइंट्स पर दबाव पड़ता है | 

जो बॉडी के कई पार्ट से जुड़े होते है | इससे शरीर में फंक्शन सुधारते है | और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने लगती है | मंदिर में मौजूद कपूर और हवन का दुआ हमें बैक्टीरिया से बचाता है | इससे हम वायरल इन्फेक्शन से भी दूर रह सकते है | 

मंदिर का शांत माहौल और संघ की आवाज में मेंटली रिलैक्स करती है | इससे स्ट्रेस दूर होता है | हर रोज मंदिर जाने से और भगवान की आरती गाने से ब्रेन फंक्शन सुधारते है | इसे डिप्रेशन भी दूर होता है | एक रिसर्च के अनुसार जब हम मंदिर का घंटा बजाते है | तो इसकी आवाज 7 सेकंड तक हमारे कानों में गूंजती है | इस दौरान बॉडी में सुकून पहुंचाने वाले से 7 पॉइंट्स पर एक्टिव हो जाते है | इससे एनर्जी लेवल बढ़ाने में सहायता मिलती है |

आयुर्वेदा का फेसबुक पेज लाइक करना मत भूलना।

और पढ़े –

Leave A Reply

Your email address will not be published.