नीम के पत्ती के फायदे

21

नीम का स्वाद कड़वा क्यों ना हो लेकिन वह काम ऐसा करता है शायद कोई मीठी चीज नहीं कर पाएगी | नीम हमारी त्वचा के लिए बहुत ही लाभकारी है। नीम में कई तरह की एंटीबायोटिक प्रॉपर्टी मौजूद होती है जो हर तरह की स्किन डिसीज में लाभ पहुंचाती है। आईये जानते है नीम के फायदे और बहोत कुछ

मुहासे, झुर्रिया, पिगमेंटेशन, ब्लैकेडस, ड्राय स्किन या कोई भी स्किन डिसिस होने पर अपनी उनका इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए नीम के पत्तों को धूप में अच्छे से सुखाएं और इसका चूर्ण तैयार करें, अब इस चूर्ण में थोड़ी सी हल्दी पाउडर मिलाएं और इसमें पानी मिलाकर इसका पेस्ट तैयार करें और अपने चेहरे पर या शरीर में जहां पर त्वचा संक्रमण हुआ है वहl  लगाएं l 

अगर आप लेप चेहरे पर लगाते हैं तो सूखने पर इसे पानी से अच्छी तरह से धो लें और शरीर पर लगाते हैं तो इसे रात भर लगा रहने दें और सुबह इसे धो लें यह उपाय बहुत ही असरदार है। लेकिन इसे आपको कुछ दिनों तक लगातार लगाना है। इससे आपके चेहरे के दाग धब्बे भी मिट जाएंगे।

इस लेप का आप गोरा बनने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए उसमें थोड़ी-सी मुलतानी मिट्टी ग्लिसरीन और गुलाब जल मिलाकर इसका इस्तेमाल कीजिए इससे आप का चेहरा गोरा भी बनेगा और चेहरे के दाग धब्बे भी मिट जाएंगे। इसके अलावा नहाने का पानी गर्म करते समय उसमें नीम की पत्तियां मिलाए।

या फिर आप पानी में नीम के फूल मिलाकर भी इससे स्नान कर सकते हैं। ऐसा करने से आपको कोई भी त्वचा रोग नहीं होगा |

नीम के औषधीय उपयोग

मुहांसों से जल्दी छुटकारा पाने के लिए नीम की पत्तियों को पानी में डालकर उबालें जब पानी हरा हो जाएगा तो इसे छानकर ठंडा होने दें। फिर दिन में दो-तीन बार इस पानी से मुंह धोयेl दांतो को साफ करने के लिए चमकदार बनाने के लिए उनको मजबूती देने के लिए नीम के दातुन का इस्तेमाल कीजिए l 

सुबह सुबह जब आप सो कर उठते हैं तब बिना कुल्ला किए दातुन लगाएं। इससे जो रस निकलता है और

आपकी जो लार होती है उसको थूकने के बजाय अपने पेट में लीजिए इससे आपका पेट भी अच्छी तरह से साफ होगा और आपको मधुमेह की बीमारी भी नहीं होगी l 

अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो रोज खाली पेट नीम का रस पीना शुरू कर दीजिए। इसके लिए एक कटोरी नीम के फूल या पत्तों में एक चम्मच शहद और एक चम्मच नींबू का रस मिलाकर पीस लें। अब इसमें एक कप पानी मिलाकर उसका रस निकाल लें और इस रस का रोज सेवन कीजिए | इस रस का नियमित सेवन करने से आपका वजन कम होगा और आपकी ब्लड शुगर कंट्रोल में रहेगी जिसके कारण आप कभी भी मधुमेह का शिकार नहीं बनेंगे। 

कैंसर से दूर रहने के लिए और कैंसर के रोगी के लिए नीम का रस बहुत ही लाभकारी है। हर रोज सुबह खाली पेट नीम का रस लेने से शरीर में मौजूद सारे विषैले तत्व बाहर निक जाते हैं | इससे हमारे शरीर का शुद्धिकरण होता है जिसके कारण हम कई तरह की बीमारियों से दूर रह सकते हैं। 

इसके साथ इससे हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ जाती है। नीम के नियमित सेवन से हमारे शरीर का रक्त प्रवाह सही होता है। जिससे हमारा खून भी साफ हो जाता है। पेट में जलन, अल्सर, गैस, कब्ज जैसी पेट से जुड़ी समस्या के लिए नीम का पानी बहुत ही अच्छी औषधि है।

यूरिन इंफेक्शन होने पर नीम के पत्तों को सुबह खाली पेट चबाये इससे आपको जल्दी आराम मिलेगा | बाजार में नीम का तेल भी मिलता है। अगर आप दाद खुजली फंगल इंफेक्शन से परेशान है तो उस तेल का इस्तेमाल कीजिए। 

अगर आपको किसी भी तरह का बुखार आता है तो नीम के पत्तों पर सोने से बुखार कम हो जाएगा | बालों में जुएं होने पर नीम की पत्तियों का रस या नीम पाउडर रात को सोते समय बालों में लगाएं और सुबह गर्म पानी से बाल धोएं इससे जुएं मर जाएंगे। 

अगर आपके घर में गेहूं या जवार में कीड़े होते हैं या  खराब होते हैं तो उसमें नीम की पत्तियां मिलाएं और इसको पिसते वक्त पत्तियां निकाल दीजिए। अगर आपको नीम के फायदे समझ आ गए हैं तो अपने घर के आंगन में या खेत में हर साल एक नीम का पेड़ जरूर लगाएं।

आयुर्वेदा का फेसबुक पेज लाइक करना मत भूलना।

और पढ़े –

Leave A Reply

Your email address will not be published.